Phishing क्या हैPhishing attack क्या है और इससे कैसे बचे ?

Phishing kya hai :  दोस्तों आज हम आपको बतायेंगे की फिशिंग  क्या है आप मे से कहीं लोगों को य़ह नहीं  होगा  कि फिशिंग क्या है  या फिर आपने phishing  नाम ही पहली बार सुना होगा|  आज के  समय  मे इन्टरनेट के युजर काफी तेजी से बढ़ रहे हैं  एसे मे इन्टरनेट की  दुनिया में हैकर बढ़ते  जा रहे हैं | और हैकिंग से  लोगों को  बहोत  नुकसान पहुंचा रहे हैं| इसी  प्रकार phishing से  भी हैकर लोगों  को  नुकसान पहुंचा  रहे हैं आखिर य़ह phishing है क्या और इससे हम कैसे बच सकते हैं चलिये जानते हैं



{tocify} $title={Table of Contents}



Phishing क्या है


Phishing का नाम सुनकर आपको लग रहा होगा कि यहा तो मछली पकड़ने की बात हो रही है लेकिन मछली पकड़ने को इंग्लिश में Fishing कह्ते है तो फिर य़ह phishing है क्या?


जिस प्रकार मछली जो  अपने जाल फसा कर पकड़ लिया जाता है उसी प्रकार phishing मे भी कुछ ऐसा ही होता है phishing का अर्थ होता है ऑनलाइन जालसाजी |जिसमें मे हैकर चारा डाल कर मछली को पकड़ते है लेकिन यहां पर मछली की जगह कोई उपभोक्ता या युजर होता है


यहा पर हैकर किसी युजर को ऑनलाइन अपने जाल में बहला फुसला कर फसा लेता है उसके बाद वह एक लिंक भेजता है मान लीजिए कि अटैकर को आपका कोई सोशल मीडिया अकाउंट हैक करना है इसके लिये वह आपको कोई भी लालच देगा जैसे ऐसा करने से आपके फॉलोअर बढ़ जायेंगे या यहा लॉगिन करने आपको पैसे मिलेंगे आदि लालच देकर वो उस सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म की फिशिंग लिंक भेजेगा जो एक दम असली दिखेंगी और जब आप वहा पर मांगी गई जानकारी देते हैं तो वह जानकारी सीधे हैकर के पास पहुच जाती है और हैकर आपका अकाउंट हैक कर लेता है इस तरह कोई युजर  phishing attack का शिकार हो जाता है|



अगर हम phishing attack को संक्षेप में समझे तो 

Phishing attack  साइबर  अपराधियों द्वारा अपनाया जाने वाला वह अटैक है, जिसका मुख्य मकसद युजर की गोपनीय जानकारियों को चुराना और इनका गलत इस्तेमाल करना होता है|





फिशिंग अटैक से कैसे बचे | phishing attack se kaise Bache 


आप phishing attack के बारे में काफी कुछ जान गये होंगे, चलिए इससे बचने के तरीके भी जान लेते हैं|


Phishing attact से बचने के  लिये आवश्यक है कि युजर अपने स्तर पर कुछ बुनियादी सावधानियां बरते, ताकि इस प्रकार के किसी भी अटैक से कुछ हद  तक बचा जा सके| तो phishing या किसी virus अटैक के खतरे को कम करने के लिए नीचे बताए गए स्टेप्स को Follow करे|


1.  अगर आप किसी भी वेबसाइट मे जाते हैं और अपना युजर आईडी और पासवर्ड डालने से पहले से य़ह सुनिश्चित करले की लॉगिन पेज का यूआरएल   'https://'  से प्रारम्भ  हो रहा है  'https:// से नहीं|  s से आशय है कि  सुरक्षित  तथा य़ह दर्शाता है कि वेब पेज  एंक्रिप्शन  का प्रयोग कर रहा है|


 2. अपनी व्यक्तिगत जानकारी फोन या इन्टरनेट पर तभी दे  जब कॉल या सेशन आपने प्रारम्भ किया हो और सहकर्मी को पूरी तरह से जानते हो|


3. ध्यान रखिये की बैंक कभी भी ई-मेल  द्वारा आपके  खाते की जानकारी नहीं मांगता है |


4.  किसी भी अनजान लिंक पर क्लिक नहीं करे और क्लिक करने से पहले एक बार यूआरएल की जाच जरूर करले |



निश्कर्ष :-


दोस्तों आपने जाना कि फिशिंग अटैक क्या होता है और phishing attack से कैसे बच सकते हैं | उम्मीद है य़ह जानकारी आपके काम आयेंगी| यदि दी गई जानकारी आपको अच्छी लगे तो शेयर जरूर करे और अगर आपका कोई भी सवाल है तो नीचे कमेन्ट करके जरूर बताए|